बुधवार, 20 मई 2009

कुत्तों की बोली बोलनेवाले टैक्स-कलेक्टर

फ्रांस की राजधानी पेरिस में एक बार पालतू कुत्तों पर वार्षिक टैक्स लगाया गया। पर बहुत लोग टैक्स देने का समय आने पर अपने कुत्तों को छिपा देते थे। उन्हें पकड़ने के लिए वहां की सरकार ने कुछ ऐसे आदमी नौकर रखे, जो कुत्तों की बोली बोल सकते थे। ये लोग रात को कुत्तों की बोली बोलते फिरते थे। जिस घर में कुत्ता होता, वह इन आदमियों के मुंह से कुत्तों की बोली सुनकर अवश्य ही भौंक पड़ता। बस ये लग उस घर का नंबर नोट कर लेते। सबेरे ही उस घर पर टैक्स-कलेक्टर आ खड़ा हो जाता।

1 Comment:

PCG said...

काश ! मेरा पालतू कुत्ता भी इन हमारे टैक्स चोर नेतावो की बोली बोल पाता, मैं भी उसे इन्कम टैक्स दफ्तर में भर्ती कर देता !

 

हिन्दी ब्लॉग टिप्सः तीन कॉलम वाली टेम्पलेट